PYAR GHAR K SAMNE

Rough English Translation:

Hello, I lived Hameia reads stories to Hindi. Matter and thought of writing your story now too. I will tell I’m live in Jaipur. In the matter of when I was 12, in front of my house there was two Aladkaia. Both were cool to the younger one had to Doom, it was my own school, my junior. He loved someone at home but not get caught after they were spotted. Then every evening that the neighboring house, the roof of my house, come and pay my phone used to talk to him. Then one day the two of them got the break-up and we’re still meeting. Both of us every evening to meet and talk, our friendship was deep. An evening to talk like we began to talk of sex. Top and pajamas she was wearing that day. Then she told me her and the boy’s story and stating been disappointed. The matter and hugged her to calm down and caressed. It did not matter and never before for her but now she was in my Aghaush I could feel it. When I separated from him she looked amazing Kangana Ranaut at all. Her eyes were moist and she looked beautiful. I do not know but I do not know watching her eyes in a few moments we have come closer to each other in what we were doing another. And then how we started Then I felt his hand his Adac Chuche Humane pay. He was getting hot and we gave our clothes off. We both gave each other’s clothes off and 69 positions in the pay ceiling has come. Then I put your weapon on his Yzoni war after 5 minutes I was Zad. And that too was very happy. You must tell me how did I tell you the story

RAW Hindi Sex Story:

नमस्ते, मै हमैशा से हिन्दी कहानिया पढता रहता था। तो अब मेने अपनी दास्तान भी लिखने की सोची। मै बता दू मै जयपुर मे रहता हू। बात तब की है जब मै 12 मे था, मेरे घर के सामने दो लडकिया रहती थी। दोनो ही मस्त थी पर छोटी वाली तो कयामत ही थी, वो मेरे ही स्कूल मेरी जूनियर थी। वो किसी से प्यार करती थी पर घर पे पकडे जाने के बाद वो मिल नही पाते थे। तो हर शाम वो पडोस वाले घऱ से मेरे घऱ की छत पे आती और मेरे फोन से उसे बात किया करती। फिर एक दिन उन दोनो का ब्रेक अप हो गया और हम फिर भी मिलते रहे। हम दोनो हर शाम को मिलते और बाते करते, हमारी दोस्ती गहरी होती गई। एक शाम ऐसे ही बात करते करते हम सेक्स की बात करने लगे। उसने उस दिन टाप और पजामा पहन रखा था। तब उसने उसके और उस लडके की कहानी मुझे बताई और बताते हुए निराश हो गई। तो मेने उसे गले लगाया और शांत होने के लिए सहलाया। इससे पहले मेने कभी उसके लिए ऐसा नही सोचा था पर अब वो मेरे आगौश मे थी और मै उसे महसूस कर सकता था। जब मैने उसे अपने से अलग किया तो वो गजब लग रही थी बिल्कुल कंगना राणावत। उसकी आँखे नम थी और वो बहुत सुन्दर लग रही थी। पता नही पर उसकी आँखो मे देखते देखते पता नही हम एक दूसरे करीब आते गए और कुछ ही पल मे हम दूसरे को किस कर रहे थे। और फिर हम एक को किस करने लगे फिर मैने अपना हाथ उसके दाए चुचे पे घूमाने लगा। वो गरम होने लगी और हमने अपने कपडे उतार दिये।हम दोनो ने एक दूसरे के कपडे छत पे ही उतार दिये और 69 पोजीशन मे आ गये। फिर मैने उसकी य़ोनि पर अपना हथियार रखा और 5 मिनट के युध्द के बाद मै झड गया। और वो भी बहुत खुश थी। आप मुझे बताये कि आपको कहानी कैसी लगी मुझे जरूर बताए – stayvtabhi@yahoo.com!!!! धन्यवाद।

VN:F [1.9.22_1171]
Rating: 4.0/10 (1 vote cast)
VN:F [1.9.22_1171]
Rating: 0 (from 0 votes)
PYAR GHAR K SAMNE, 4.0 out of 10 based on 1 rating

Leave a Reply